Saturday, December 25, 2010

साल खत्म हो रहा है -2010

साल खत्म हो रहा है
लो 2010 भी खत्म हो रहा है पांच दिन बाद 2011 का आगमन हो जायेगा...दिसंबर आते आते बीते महीनों की बातें धुधली होने लगती और बीते सालों की यादे तो मानो खत्म हो जाती है बस रहे जाता है अच्छे और बुरे अनुभवों के निशान। इस साल न कोई नये दोस्त बने और न कोई नये दुशमन ऐसा मैं मानता हूं हां इंक्रीमेंट 13000 का जरूर हआ था पर आज की तारीख़ में मेरे बैंक खाते में सिर्फ 25,000 रूपये ही बचे हैं सारे पैसे कहां गये उसका भी कोई अता पता नहीं एक रिश्ते के भाई की शादी हो गई और कई दोस्त भी निपट गये। टेलीविज़न के ऑवर्ड मिले कई ऑवर्ड में बेस्ट कैटेगरी में शामिल हुए.. पुराने प्रोग्राम ले लिये गये नये कार्यक्रम दे दिये गए.सिर के कुछ और बाल खत्म हो गए।लखनऊ,सहारनपुर पंजाब उडीसा धूम भी आये । पत्नी से कई बार झगड़े हुए और कई बार समझौते विदेशी राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री का स्वागत किया और देसी नेताओं के ब्रष्ट्र चेहरे देखने को मिले तबीयत बिगड़ी तो कभी संभली डेंगू चिकनगूनिया और नये किस्म के बुखारों का सामना किया तेल मंहगा प्याज़ मंहगी मंहगा टमाटर खरीदा । नई जगह नौकरी की तलाश की पर नतीजा सिफर ही निकला।ईद बकरीद मोहरर्म भी मनाया नए कपड़े नये जूते भी खरीद लिए। नौकर गया लौट आया ज़िंदगी उसी रफतार से चलती रही। कॉमनवेल्थ या सचिन के 50शतक सभी मैने देख लिए पर 35 साल में ही जीने की हसरत न जाने क्यों खत्म हो रही है दूसरों के पैसे देख कर अपनी ज़िन्दगी बड़ी हीन लगती है। 2011 एक नया महमान आयेगा अपने साथ अपनी किसमत और शायद हमारी बुलंदी लाये या फिर उसकी जिन्दगी भी हमारी तरह ही कष्टों बातों और सपनो में बीत जायेगी और वो भी हमारी तरह साल दर साल अपनी नकामी के किस्से ग़लत सही शब्दों मे लिखकर आप लोगों का वक्त ज़ाया करेगा ।..साल खत्म हो रहा 2011 न जाने अपने साथ क्या क्या लाये ..अल्लाह खैर करे ।।

3 comments:

परमजीत सिँह बाली said...

वक्त इसी तरह चलता रहता है यह सिर्फ आपके साथ ही ऐसा नही है आज सभी कम ज्यादा ऐसी स्थिति मे ही जीवन गुजर रहे हैं...कुछ कर नही सकता इंसान...बस तमाशे की तरह दुनिया और अपने को देखिए और मौज लिजिए..

Anonymous said...

Be positive, think positive....

Life is like a camera ..
Keep smiling,
fil the page of life with care
Welcome the new one with hope

Wish you a happy n lucky 2011 ahead !!!

Keep writing ...

क्रिएटिव मंच-Creative Manch said...

नया साल आये हुए एक अरसा बीत गया हुजूर
अब इन्तजार है आपकी नयी पोस्ट का

शुभ कामनाएं