Monday, October 29, 2012

centum learning(film theatre artiste of india)

Film on centum learning …..


Format : anchor A/Vs

Scene -1

montage ( visual with audio mera kal banaegag behtar with visuas of centum learning centre board , teaching , mobile officer , various shots of film)

scene -2 ( anchor entry shots of village static camera he come in front of camera )

anchor – कैसे हैं भई आप सब . ( घ्यान से कैमरे के तरफ देखते हुए ) ऊं... .. उदास लग रहे हैं ,चहेरे पर मायूसी ,दुख और ग़म... ( कान को इस तरह की कुछ सुनने कि कोशिश...) क्या कहा बेरोज़गारी और तंग हाल में कैसे खुश रहेगे .. ओ .... ( कुछ सोचते हुए) .. चलो आज आपकी सारी समस्याओं का The end कर दें क्या चाहत है आपकी ..अपने परिवार के लिए कुछ करने की , नौकरी करने की , पैसा कमाने की .. कोई ट्रेनिंग कर ली जाए ,जिससे काम मिल जाए ..और जीवन खुशहाल हो जाए ऐसा सोचते हैं.. .. पर ट्रेनिंग के लिए पैसे कहां से आये ... कहीं से पैसों का जुगाड़ कर के ट्रेनिंग कर भी ली जाए ..तो नौकरी को कहां तलाश किया जाए.. चारो तरफ ठग बैठ है..ऐसे कई सवाल आपके दिमाग में घूम रहे होगें.....(ज़ोर देते हुए होंटों को दबाते हुए) अगर कुछ ऐसा हो जाए ... कोई आप के पास खुद ही आ जाए .. आपको किसी काम की ट्रेनिंग देने के लिए एक सेंटर में बुलाया जाए ..और जब आप ट्रेनिंग करने आए आपको सेंटर तक पहुंचने का किराया भी मिले ..और खाना भी ... इतना ही नहीं ट्रेनिंग के बाद आपका किसी कंपनी में इंटरव्यू कराया जाए... नौकरी दिलाई जाए ... काम के मौहौल में ढ़ालने में भी मदद की जाये ..और ट्रेनिंग के बाद आप को दो हाज़ार रूपए भी मिले और जो तनखाह मिल रही है वो सो अलग ... क्या मजाक लग रहा है आपको झूठ लग रहा है .. मैं आपको झूठा और मज़ाकिया आदमी लग रहा हूं..ये मज़ाक नहीं.. सच है..centum learning देश के अलग अलग कोने में ऐसा ही कर रही है ... आप जानना चाहेगे centum learning क्या है centum learning एक बढ़ती हुई मल्टूनेशनल हैं जो आपको कुशल कामगार बनने की ट्रेनिंग देती है जिसके पास 1000 से ज्यादा ट्रेनिंग देने वाले स्पेशलिस्ट हैं जो 20 देशों के 169 शहरों में 278 skil development सेंटर चला रहे हैं। जिसमें अब तक तकरीबन दस लाख लोगों को ट्रेऩड किया जा चुका है.। भारत में centum learning ने साझेदारी की nsdc यानि national skils development corporation के साथ तो centum learning का नाम पड़ा centum work skill ( cwsi)..पूरा मामला एक दम फिट ..आपका कल बेहतर बनाने के लिए centum learning के लोग निकल पड़ रहे हैं..

vo-1 (shots of mobilization) गांव गांव शहर शहर ..कसबे कसबे ,ज़िले ज़िले ..तंग तंग गलियां .. ऊंचे नीचे रास्ते ,पहाड़ नदियां सब को पार करते .. हिमाचल हो, पंजाब हो ,मध्य प्रदेश हो, छतिसगढ़ हो या फिर हो असम ..लोगों को बताना , समझाना .एक जगह बुलाना ,पंचायत लगाना ..फिर उनके सवालो का जवाब देना .. आपके कल को बेहतर बनाने के लिए आपको तैयार करना ...

various BYTe ..breathe of mobization officer

Vo-2 .लोगों की अपनी जिन्दगी होती है .. अपना तरीका ,ज़िन्दगी को टाइम पास समझना . ताश खेलना ,तफरी करना . हर क्षेत्र में अपने जीवन को लोगों ने अलग अलग तरह से ढ़ाल लिया है ..उनकी बेहतरी के लिए उनको बदलाना उनको समझाना काफी बड़ी चुनौती है ..

Byte- hp ( its difficult to convince them)

Vo-3- उनको समझाने के लिए स्थानिय लोगों की मदद ली जाती है , जैसे सरकारी मुलाज़िम , ज़िला अधिकारी सरपंच, पत्रकार जो वहां के लोगों को बताते है centum learning के skill development सेंटर में ट्रेनिंग लेने के फायदों को और ये भी बताते हैं कि ये एक सही जगह है। इसका उद्देश्य सही है।ये सब सिर्फ बाते नहीं हैं वास्तव में हकीक़त है।

Byte- sarpanch. Reporter..

Anchor-centum learning के skill development centre में ट्रेनिंग लेने के लिए कुछ ज़रूरी बातें। जैसे आपकी उम्र 18-35 साल के बीच होनी चाहिए। कुछ सीखने की आप के अंदर इच्छा होनी चाहिए । कम से कम आप ने आठवीं कलास तक पढ़ाई करी हो यही बाते centum learning के ऑफिसर, ट्रेनेर, जा कर सब को बताते हैं..एक बात आपको और बता दूं कई शहरों में भारती वॉलमार्ट skill development centre भी हैं जहां लोग training लेकर उन्ही के भारती वॉलमार्ट स्टोर में नौकरी कर सकते हैं।.इस तरह उनको समझाया जाता है कि जहां आपको ट्रेनिंग दिलाई जायेगी वो भी मुफ्त वो एक दम सही जगह है ।और सिर्फ ट्रेनिंग ही नहीं उसके बाद आपको रोज़गार भी दिलाया जाएगा।

बाइट ( कैसे लोगों को समझाते हैं

बाइट( कोर्स

Vo-4 जो लोग ट्रेनिंग के लिए सेंटर में आते हैं उनको एक वक्त का खाना मिलता है और जो लोग दूर से आते हैं उन्हे किराया भी दिया जाता है ..साथ में अलग अलग क्षेत्रों में ट्रेनिंग दी जाती है आपकी योग्यताओं के हिसाब से, जैसे किसी को रिटेल की , मॉल में अलग अलग काम करने की , स्टोर में, सैल्स मैन या सैल्सगर्ल की, गार्डस की, डीटीएच लगाने की ग्रामीण इलाकों में बीपीओ खोलने की और भी कई तरह की.. आपके अपने क्षेत्र में या क्षेत्र के बाहर शहर में या गांव में जहां आपको नौकरी मिल सकती है या नौकरी दिलाई जा सकती है इन सारे विकल्पओं को देखते हुए skill development centre काम करता है । मुख्य उदेश्य centum learning का ये ही है कि जिन लोगों की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं हैं चाहे वो पीछड़े वर्ग से हो, ग़रीब परिवारों से, जिनकी घर की आमदनी अच्छी नहीं है, परिवार में बेरोज़गार लोग ज्यादा है और आमदनी कम है इस तरह के परिवारों का और लोगों का चयन करना उनकी जिन्दगियों को बदलना और उनको आर्थिक और समाजिक रूप से ऊपर उठाना और सब को अपने पैरों पर खड़ा कर के मज़बूत बनाना

बाइट ट्रेनर

बाइट ट्रेनर

Anchor: इसके बाद लोगों की ज़िन्दगियों में बदलाव आना लाज़मी है और लोगों की ज़िन्दगी में बदलाव आ रहा है ।अब हम आपको मिलाते हैं कुछ ऐसे लोगों से जिन्होने centum learning से ट्रेनिंग ली और अपनी ज़िन्दगी को बेहतर और उज्वल रास्ते की तरफ कर दिया.. किसी का सपना साकार हो .. किसी ने पहली बार मॉल देखा ,किसी ने पहली बार जूते पहने ,किसी ने पहली बार एटीएम का इस्तेमाल किया ,किसी ने अपने पापा को ऑटो दिलाया किसी ने अपनी मां की मदद की तो कोई पिता का सहारा बना...और किसी को अपनी मोहब्बत मिली ।

( all achiever frame will cut in window in one side… anchor)

Anchor हमारे साथ है इस वक्त असम के अजमल हुसैन , छतीसगढ़ से, दिनेश साहु के ट्रेनर हैं... जो बताएगे कैसे दिनेश साहु ने जूते खरीदे । दुर्गा प्रसाद है ..जन्नूमाईदेवी है... जो आज अपने पिता से ज्यादा कमा रही हैं, सकीना बेग़म है जिन्होने अपने पिता को भी अपने पैरों पर खड़ा कर दिया शिवनाथ है जो अपनी ज़िन्दगी के बदलाव के बारे में कहेगें ...और वो माता पिता भी हैं जिनके बच्चे कल तक भटके हुए थे ग़लत रास्ते पर थे पर centum learning के skill development centre में आने के बाद वो आज अपने परिवार का महत्वपूर्ण सहारा बन गए है । ये सब आपको बताएगें कि Centum learning ने किस तरह इनकी जिन्दगी को बदल दिया।

बाइट एक बाद एक...

Anchor ; कल आपकी भी कहानी यहां दिखायी जाएगी .. आपकी कामयाबी की दास्तां भी लोग सुनेगे.. कहते है सब की किस्मत में खुशियों का दरवाज़ा एक बार ज़रूर खुलता है ..आपका वक्त आ गया है जल्दी से ,centum learning के skill development centre में आये । हम आपका कल बेहतर बनाए गये .... क्योंकि centum learning skill development centre लोगों की ज़िन्दगियों में बेहतर बदलाव लाता है और आगे भी लाता रहे गा आर्थिक रूप से कमज़ोर लोगों को ऊपर उठाने का ज़िम्मा centum learning ने उठा लिया है .. अब आप कमज़ोर नही रहेगे किसी पर निर्भर नहीं होगे क्योकि centum learning की पूरी टीम आपके साथ है .. तो मेरे साथ आप भी कहे मेरा कल बनेगा बेहतर ....

बाइट .. मेरा कल बने गा बेहतर...

The end…



2 comments:

Anonymous said...

It's actually very complex in this full of activity life to listen news on TV, thus I just use the web for that purpose, and take the newest information.
My site - a site like this

Anonymous said...

I love your blog.. very nice colors & theme. Did you make this website yourself or did you hire someone to do it for you?

Plz answer back as I'm looking to design my own blog and would like to know where u got this from. cheers
Check out my site - skin care